जीवन के दस सूत्र

जीवन के दस सूत्र किसी भी व्यक्ति के जीवन में मुख्य रूप से दस सूत्र हैं जो उसके जीवन की दिशा और दशा को निर्धारित करते हैं । व्यक्ति का जन्म दिनांक, जन्म का समय, जन्म का स्थान, माता और पिता । ये जीवन के पहले पांच सूत्र हैं और विशेष बात ये है कि इनको बदला नहीं जा सकता । व्यक्ति के जीवन का पूरा निर्धारण (लगभग) का मुख्य आधार भी यही पांच सूत्र या बिन्दु हैं । ------------------------------------------- वास्तु, ज्योतिषीय मुहूर्त, व्यक्ति का नाम (नामशास्त्र/Nameology), जीवन में विषेशतः प्रयोग में आने वाले अंक (अंकशास्त्र/Numerology), जीवन में विषेशतः प्रयोग में आने वाले रंग (रंगशास्त्र/Color-therapy) । यह जीवन के दूसरे पांच मुख्य सूत्र या बिंदु हैं । ------------------------------------------- यहाँ विशेष बात यह है कि कोई भी व्यक्ति जीवन में इनका प्रयोग अपने हिसाब से कर सकता हैं और जीवन में सकारात्मकता या सुख की संभावनाओं को बढ़ा सकता हैं एवं नकारात्मकता या दुःख की संभावनाओं में कमी कर सकता है । आवश्यकता है समय रहते एक ज्ञानी एवं अनुभवी ज्योतिषी के मार्ग निर्देशन की । ------------------------------------------ सदैव स्मरण रहे कि इंसानी जीवन कर्म प्रधान है और जीवन में हमें जो भी प्राप्तियां हुई हैं और जो प्राप्तियां हो रही हैं और जो भी प्राप्तियां भविष्य में होंगीं उनका आधार भी कर्म ही है, लेकिन यदि समय रहते कर्म को सही दिशा और गति एवं विवेक (अर्थात ज्योतिष, विज्ञान, आध्यात्म) का साथ मिल जाय तो बहुत कुछ सुखद हो सकता है I ------------------------------------------- आज समाज में आत्मविश्वास बढ़े और अन्धविश्वास भागे इसी के सन्दर्भ में मैनें यह लेख अपने प्राप्त ज्योतिष ज्ञान, ज्योतिष शिक्षा, ज्योतिषीय अनुभव, सामाजिक अनुभव, एवं व्यक्तिगत अनुभव के आधार पर लिखा है I -------------------------------------------- 🙏🌹🌹🙏 अग्रिम शुभकामनायें ...! सुभाष वर्मा ज्योतिषाचार्य कुंडली, नामशास्त्री, रंगशास्त्री, अंकशास्त्री, वास्तुशास्त्री, मुहूर्त ------------------------- केवल ज्योतिष - चमत्कार नहीं आत्मविश्वास बढ़ाएं - अन्धविश्वास भगाएं ------------------------------------ www.facebook.com/AstroShakti [email protected] www.AstroShakti.in

Written & Posted By : Subhash Verma Astrologer
Dated: :

Back to Jyotish Shakti

Login